Shayari in Hindi – Love, Sad, Dosti, Funny, Friendship, Attitude, Life

Sad Shayari in Hindi for girlfriend :

दुश्मन भी मेरे मुरीद है शायद, वक़्त बेवक्त मेरा नाम लिया करते हैं। मेरी गली से गुजरते हैं छुपा के खंजर, रु-ब-रु होने पर सलाम किया करते हैं।

टूट कर चाहना और फिर टूट जाना बात छोटी है, मगर जान निकल जाती है।

बचपन में तो शामें भी हुआ करती थी, अब तो बस सुबह के बाद रात हो जाती है।

सुनना चाहते हैं एक बार आवाज आपकी, मगर बात करने का बहाना नहीं आता।

बहुत- बहुत, बहुत रोएगी जिस दिन मैं याद आऊंगा और बोलेगी एक पागल था, जो पागल था सिर्फ मेरे लिए।

Friendship Shayari in Hindi Dosti :

किस हद तक जाना है, यह कौन जानता है ? किस मंजिल को पाना है, ये कौन जानता है ? दोस्ती के दो पल जी भर के जी लो, किस रोज़ बिछड़ जाना है, यह कौन जानता है ?

दोस्तों की दोस्ती में कभी कोई रूल नहीं होता है और ये सिखाने के लिए कोई स्कूल नहीं होता है।

खुशबू में एहसास होता है। दोस्ती का रिश्ता कुछ खास होता है। हर बात जुबा से कहना नामुमकिन नहीं, इसलिए तो दोस्ती का नाम विश्वास होता है।

रिश्तों की यह दुनिया है निराली, सब रिश्तों से प्यारी है दोस्ती तुम्हारी, मंज़ूर है आंसू भी आखो में हमारी, अगर आजाए मुस्कान होठों पर तुम्हारी।

उम्मीदों को टूटने मत देना। इस दोस्ती को कम होने मत देना। दोस्त मिलेंगे हमसे भी अच्छे, पर इस दोस्त की जगह किसी और को मत देना।

Funny shayari in Hindi for whatsapp:

कभी गरम कभी ठंडा लिया करो। संस कुछ नया-नया किया करो। अरे कंजूस, कभी तो नेट पैक रिचार्ज करवा लिया करो। हम हंसी के डॉक्टर है, रोज हमसे हसी की खुराक लिया करो।

डरपोक हैं वह लोग जो ऑनलाइन आने से डरते हैं। साला जिगर चाहिए, टाइम बर्बाद करने के लिए।

मैंने कहा दिलरुबा, उसने कहा पैसा दिखा ? मैंने कहा पैसा नहीं, उसने कहा कैसे नहीं ? मैंने कहा महंगाई है, उसने कहा जा तू मेरा भाई है।

जिस प्रकार पाप का घड़ा भरते ही मृत्यु हो जाती है, उसी प्रकार, खुशिओं का घड़ा भरते ही शादी हो जाती है।

जब से तुम मेरी जिंदगी से गई है, by god, जिंदगी जीने का मजा ही आ गया।

Love Shayari in Hindi for girlfriend :

ना मैं तुम्हें खोना चाहता हूं, ना तेरी याद में रोना चाहता हूं। जब तक जिंदगी है, मैं हमेशा तुम्हारे साथ रहना चाहता हूं।

तेरी ही यादों में मैं, अपना नाम भूल जाता हूं। मिलना था किस को, सभी में काम भूल जाता हूं। बड़ी मुश्किल से होती है वापस होश में आने को, कब सोना कब जागना सुबह से शाम भूल जाता हूं।

तेरी हर अदा, मोहब्बत सी लगती है। एक पल की जुदाई, मुद्दत से लगती है। पहले नहीं, अब सोचने लगा है हम की, जिंदगी के हर लमहे में तेरी जरुरत सी लगती है।

मुझे आदत नहीं यूं हर किसी पर मर मिटने की। पर तुझे देख कर दिल ने सोचने तक की मोहलत ना दी।

आसमान से ऊंचा कोई नहीं। सागर से गहरा कोई नहीं। यु तो मुझको सभी प्यारे है, पर आप से प्यारा कोई नहीं।